मेट्रो रेल की गति से बदलता नागपुर के विकास का चेहरा...!


नि:संदेह!
केन्द्रीय मंत्रि आदरणीय नितीन गडकरी के सपनों का नागपुर अब अपने आकार लेने के अंतिम पडाव पर खडा है नागपुर के लिये ये सौभाग्य की बात है कि ऐसा स्वप्नद्रष्टा राजनेता हमारे शहर, हमारी लोकसभा ही नहीं बल्कि देश के मंत्रिमंडल का एक दैदीव्यमान चेहरा है|  देश के हृदय स्थल यानी नागपुर के विकास पुरूष श्री नितीनजी नें अपने शहर को विश्‍व नक्शे में एक धु्रव-तारे के रूप में स्थापित करने का जो संकल्प लिया वो मेट्रो रेल के पटरियों पर दौडने के साथ ही अब पूरा होते दिख रहा है|
शहर में आंशिक रूप से पटरियों पर दौड चुकि और भविष्य में पूरें नागपुर ही नहीं बल्कि आस-पास के इलाकों को जोडने वाली इस महत्वाकांक्षि योजना ने नागपुर के विकास के महाद्वार पर प्रवेश कर लिया है|  मेट्रो रेल के कोचेस में भरकर नागपुर स्टेशन पर रियल इस्टॅट की १३ बडी परियोजनाये उतरने वाली है जो शहर के विकास की आबो-हवा में एक नयी महक स्थापित करेंगी| इन १३ परियोजाओं में ६ तो पहले ही पास की जा चुकि है| महा मेट्रो की सूची में धंतोली के यशवंत स्टेडीयम और कस्तूरचंद पार्क पर २५ मंजिला दो भव्य टावर बनाने के अलावा जीरो माईल पर भी एक २० मजिला इमारत बनाने की बात है मेट्रो के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री ब्रजेश दीक्षित के अनुसार कुल मिलाकर रियल इस्टेट की ११ बडी परियोजनायें उनकी योजनाओं में शामिल है जिनमे से ६ कमर्शियल प्रोजेक्टस जिनमे ढढचउ (ट्रफिक एण्ड ट्रानजिंट मैनेजमेंट सेंटर) यानी यशवंत स्टेडियम की २५ माला ईमारत साथ ही १९-१९ मंजिला दो टावर्स भी शामिल है| इसे सीताबर्डी के इंटरचेंज स्टेशन से एक एलीवेटेड स्कायवाक से जोडे. जाने का प्रस्ताव है| इसके निर्माण का टेंडर पहले ही निकाला जा चुका है, जिसके लिये खछजठइखढ, झठजनजछए झकजएछखद, थढउ और नएछऊएठ जैसी कंपनियों ने अपनी रूचि दर्शायी है|  
खापरी के मेट्रो स्टेशन पर एक ७ मंजिला कामर्शियल कॉम्लेक्स प्रस्तावित है, कस्तूरचंद पार्क (२५ मंजिला) जीरो माईल (११  मंजिला), प्रजापति नगर स्टेशन (८ मंजिला) के टेंडर्स इस वर्ष निकाले जायेंगे| ज्ञातव्य है कि छअझढ जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट ने मेट्रों के एअर पोर्ट स्टेशनों की ३ मंजिले पहले ही बुक कर ली है| उसी प्रकार दो रिहायशी इमारतों की परियोजनाये भी योजना की राह पर है जो हिंगना माउंट व्हीव और मिहान मेट्रोस्टेशन के आस-पास प्रस्तावित है हिंगना प्रोजेक्ट १५ एकर के क्षेत्रफल में प्रस्तावित है जहॉं १२०० फ्लेट्‌स व बंगले बनाने का कार्य शुरू होगा | मिहान मेट्रो सिटी में करीब २५०० यूनिट बनाये जायेंगे, पांच और कमर्शियल कॉम्प्लेक्स क्रमश: कॉटन मार्केट, संतरा मार्केट, गड्‌डी गोदाम, जयप्रकाश नगर व नीरी क्षेत्रों में प्रस्तावित है| श्री ब्रजेश दीक्षित जी कहते है कि इन प्रकल्पों कों  झझझ- पब्लिक प्रायव्हेट पार्टनरशीप के आधार पर मूर्तरूप देने की योजना है, इन प्रोजेक्ट्‌स में आनेवाली लागत का आधा केन्द्र व राज्य सरकार वहन करेगी| 
महामेट्रो की एक और योजना है जो आम-आदमी के दिन प्रतिदिन के जीवन से जुडाव रखती है| मिहान जैसे प्रोजेक्टस के साथ में तथा नागपुर के विकास को देखते हुये यहॉं महामार्गो पर बढनेवाले संभावित ट्रफिक के मद्दे नजर नागपुर यातायात पुलिस के संयुक्त तत्वावधान में मेट्रो रेल प्रशासन ने शहर के प्रमुख व व्यस्त चौराहों पर सोलर ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम लगाने का कार्य
शुरू कर दिया है |