Mukesh Ambani: Bp और मुकेश अंबानी की रिलायंस मिलकर देश में 2000 पेट्रोल पंप खोलेगी


ब्रिटेन की बड़ी तेल कंपनी बीपी पीएलसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज मिलकर देश में बड़ी संख्या में पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी कर रहे हैं। मिंट के मुताबिक दोनों कंपनियां मिलकर देश में 2 हजार पेट्रोल पंप खोलेंगी।  रिलायंस अभी देश में स्वतंत्र तौर पर 1,343 पेट्रोल पंप चलाती है। बीपी को अक्टूबर 2016 में देश में 3500 पेट्रोल पंप खोलने का लाइसेंस मिला था। भारत में ईंधन की मांग लगातार बढ़ रही है।

ये पेट्रोल पंप अगले 3 साल में खोले जाएंगे। खबर के मुताबिक अभी दोनों के बीच इस नए कारोबार के लिए अंतिम एंग्रीमेंट नहीं किया है। बीपी और रिलायंस का पहले से ही एक्सप्लोरेशन और प्रोडक्शन के लिए करार है। फरवरी 2011 में इस कंपनी ने रिलायंस से 7.2 अरब डॉलर में 21 तेल और गैस ब्लॉक में 30 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। दोनों कंपनी इंडिया गैस सॉल्यूशन के जरिए देश में गैस की मार्केटिंग भी करती है।

ब्रिटेन की बड़ी तेल कंपनी बीपी पीएलसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज मिलकर देश में बड़ी संख्या में पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी कर रहे हैं। मिंट के मुताबिक दोनों कंपनियां मिलकर देश में 2 हजार पेट्रोल पंप खोलेंगी।  रिलायंस अभी देश में स्वतंत्र तौर पर 1,343 पेट्रोल पंप चलाती है। बीपी को अक्टूबर 2016 में देश में 3500 पेट्रोल पंप खोलने का लाइसेंस मिला था। भारत में ईंधन की मांग लगातार बढ़ रही है।

ये पेट्रोल पंप अगले 3 साल में खोले जाएंगे। खबर के मुताबिक अभी दोनों के बीच इस नए कारोबार के लिए अंतिम एंग्रीमेंट नहीं किया है। बीपी और रिलायंस का पहले से ही एक्सप्लोरेशन और प्रोडक्शन के लिए करार है। फरवरी 2011 में इस कंपनी ने रिलायंस से 7.2 अरब डॉलर में 21 तेल और गैस ब्लॉक में 30 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। दोनों कंपनी इंडिया गैस सॉल्यूशन के जरिए देश में गैस की मार्केटिंग भी करती है।

भारत में रिटेल पेट्रोल पंप के लाइसेंस के लिए कंपनी को तेल खोज और उत्पादन, गैस, पाइपलाइन और टर्मिनल पर 2000 करोड़ का निवेश करना जरूरी है। रिलायंस के पास देश में 5 हजार पेट्रोल पंप खोलने का लाइसेंस है। कंपनी की अभी भारत के रिटेल ईंधन बाजार में 6 फीसदी हिस्सेदारी ही है। रिलायंस ने 2004 से 2006 के बीच देश में 1,470 करोड़ रुपए के निवेश के साथ 1,470 पेट्रोल पंप खोले थे।

रिलायंस का पेट्रोल महंगा रहता है। वहीं IOCL, BPCL और HPCL से खरीदा गया पेट्रोल सरकारी सब्सिडी के कारण सस्ता होता है। अब सरकार ने पेट्रोल और डीजल के दामों को बाजार के हवाले छोड़ दिया है। भारत में 57,312 पेट्रोल पंप हैं। मिंट के मुताबिक देश में ये सरकारी कंपनियां अगले 3 साल में 50 हजार पेट्रोल पंप खोलने वाली है।